हम आज इस आर्टिक्ल के अंतर्गत Phase शब्द के बारे मे पूर्ण चर्चा को बताएँगे ऑर इसके हर एक पहलू को उदाहरण के साथ एक - एक करके आपके सामने रखेंगे। यह अर्थ इंसान के बाहरी रूप ऑर काम करने के तरीके को दर्शाते है साथ ही ग्रहो की दशा अर्थ पर भी कुछ चर्चा करेंगे। उम्मीद करते है इस आर्टिक्ल को आखिर तक पढ़ने के बाद आपके दिमाग मे उठ रहे सवालो के जवाब अच्छी तरह मिल जाएँगे। चलिये अब आगे बड़कर चर्चा को अच्छी तरह समझ लेते है। 

Phase Meaning in Hindi with All Definition :


Phase Meaning in Hindi :  

रूप, 
योजना, 
दशा,

मुझे आशा है कि अब तक तो ऊपर से शॉर्ट अर्थ को तुरंत आसानी से याद करते हुये बहुत से स्थान पर उपयोग करके फायदा उठाया होगा। कुछ लोगो के सवाल ये होते है कि उन्हे ये शब्द छोटे होने से जल्दी याद हो जाते है जिनका कही भी उपयोग बड़े आराम से कर लेते है लेकिन समस्या तब आती है 

जब ज्यादा समय बीतने के साथ ये अर्थ दिमाग से निकल जाते है। यदि ऐसा है तो दोस्तो अब चिंता करने की जरूरत नही क्योकि यह पूरा पोस्ट आपकी इस समस्या को अच्छी तरह खत्म कर देगा। चलिये अब शुरू करते है। 
 

Means of Phase in Hindi with All Details :


प्रत्येक अर्थ पर थोड़ा विस्तार रूप जाने -   

- रूप, इस धरती पर हम सभी मानव के रूप मे जीवन व्यतीत कर रहे है। हम सभी का बाहरी रूप वाकि लोगो से पूरी तरह भिन्न होता है कहने का तात्पर्य अलग दिखने के साथ प्रत्येक के विचारो मे भी भिन्नता रहती है। समाज मे अनेकों रूप बाले व्यक्तियो से आप मिलते ही होंगे, जिनमे कोई काला, गोरा आदि रंग के होते है। देखा जाये तो इसे केवल मनुष्य स्तर पर नही बल्कि बाहरी किसी भी वस्तु के साथ जोड़कर समझ पाते है। इनसे जुड़ी अनेक बाते आप खबरों मे पढ़ते होंगे। 

- योजना, देखा जाये तो हम सभी जिंदगी मे आगे बड़कर सफल होने या किसी भी तरह के काम के लिए कुछ योजना बनाकर उस पर रोज काम करते है। उदाहरण के तौर पर हर बार नया साल आता है जिसके चलते हम सभी जीवन मे कुछ हासिल करने या परिवर्तन पाने के लिए नियम बनाकर काम करने की कोशिश करते है। 

हालाकि प्रत्येक साल कुछ नए बदलाब चाहते है लेकिन थोड़े लोग ही उन चीजों पर लगातार काम करते हुये बहुत कुछ सालभर मे बदल लेते है। आप अनगिनत उदाहरण चारो ओर अवश्य ही देखते होंगे। 

- दशा, यह अर्थ सीधे ही आध्यात्म ऑर लोगो की किस्मत से जुड़ा है जो ग्रहो की स्थिति बदलने के साथ - साथ परिवर्तित होता है। मानव जीवन पर बाहरी अनेकों स्थिति का काफी गहरा प्रभाव देखने मे आता है। उदाहरण के लिए जिन लोगो के गृह की दशा अच्छी रहती है वे सभी अपने जीवन मे बहुत प्रगति करते रहते है। 

दूसरी ओर दशा सही नही होने से कुछ लोग काफी समस्या का सामना करते है। देखा जाये तो ये दशाये हमेशा एक समान ना रहकर भिन्न तरह से प्रकट होती है। जो जीवन को दिशा देती है। 

मौजूद अर्थ को प्रभाव के साथ समझे - 

- रूप, हम इसे बाहरी ऑर आंतरिक स्थिति के चलते समझ सकते है याने किसी भी इंसान के बाहरी शरीर ऑर उसके आंतरिक मन की भावनाए आदि इसे व्यक्त करते है। आज की दुनिया बाहरी रूप से ज्यादा जुड़ी नजर आती है क्योकि सभी इसकी ओर जल्दी आकर्षित हो जाते है। 

देखा जाये तो यह आकर्षण अच्छा ऑर विपरीत परिणाम दर्शा सकता है। चारो ओर अनेक महान पुरुष ऑर गुरु रहते है वे आंतरिक रूप से बहुत ही शांत ऑर खुबशुरत होने के साथ उनका मन दयालु होता है उनके द्वारा हमेशा दूसरों लोगो के कल्याण के कार्य ही किए जाते है। इस तरह इनसे समाज मे अच्छे विचार फैलते है याने प्रभाव अच्छे मिलते है। 

- योजना, जैसा कि ऊपर बताया बिना योजना के किसी भी कार्य की शुरुआत करना संभव नही है। कार्य करने से पहले हमारे द्वारा योजना बनाई जाती है ताकि एक - एक स्थिति को बेहतर तरीके से समय के साथ पूरा किया जा सके। चाहे ये योजना छोटे या बड़े स्तर पर हो। 

उदाहरण के लिए जितनी भी बड़ी कंपनीयां या व्यापार होते है वे सभी कुछ नया बाज़ार मे लाने से पहले एक बेहतर योजना का सहारा लेते है। जिस तरह लाभकारी या विपरीत परिणाम होते है वैसे ही ये व्यापार योजनाओ के बाद भी सफल या असफल होते है। आगे कुछ उपयोगी बिन्दुओ पर भी नजर डाले। 

मीनिंग के उपयोग जानिए - 

- रूप, यह बाहरी शारीरिक या आंतरिक हो सकता है। 

- योजना, आगे कदम बड़ाने से पहले के नियम इसमे देखे जाते है। 

- दशा, भिन्न तरह की दशाये जीवन पर देखी जाती है। 

मुझे उम्मीद है आप सभी को इस पोस्ट से भरपूर लाभ मिला होगा जिससे आगे भविष्य मे अच्छा लाभ ले पाएंगे। अपने दोस्तो को सोशल मीडिया के जरिये इसकी जानकारी दे। आगे हमे फॉलो करके जुड़े रहे जिससे नए आर्टिक्ल दोस्तो को मिल सके। आपके दिमाग मे उठ रहे सवालो के जवाब नीचे कमेंट मे बताए, हम आपको रिप्लाइ जरूर करेंगे।

Post a Comment

Previous Post Next Post